शुक्रवार, 30 मार्च 2012

जनरल सिंह ने देश पर उपकार किया है



- अरविन्द सिसोदिया
***** कोटि - कोटि प्रमाण *****
जनरल सिंह ने सेना के सच के लिये, कोयला और 2जी स्पेक्ट्रम घोटालों में व्यस्त कांग्रेस सरकार को चेता कर देशहित का बडा काम किया है। उन्हे मां भारती की ओर से कोटि - कोटि प्रमाण..........

जनरल सिंह सही हैं और कांग्रेस सरकार गलत है........
आखिर कब होगा सेना का आधुनिकी करण.....?
सेना की गुप्त रिपोटों को तो छोडिये.....रक्षा विभाग से सम्बंधित संसदीय समिति की बैठकों की अनेकानेक रिर्पोटों, कैग की चेतावनीयां और सामरिक उत्पादनों की आत्म निर्भरता के विश्लेषण गवाही देते है। कि भारत सरकार ने सेना की आधुनिकता के साथ गंभीरतम लापरवाहियां की हैं और उसे आज भी विदेशी रक्षा उत्पादकों का मौहताज बना रखा है।

सिंह तुम संघर्ष करो देश तुम्हारे साथ है।
जनरल की बात गौर से सुनो ओर सेना को तुरंत उन्नत करो....!
समय रहते सेना का सच उजागर कर,जनरल सिंह ने देश पर उपकार किया है।



‘हजार फीसदी सच हैं जनरल के दावे’

dainikbhaskar.com (28/03/12)       http://www.bhaskar.com

नई दिल्‍ली. सेना की बदहाली के बारे में आर्मी चीफ जनरल वीके सिंह की ओर से पीएम को लिखी चिट्ठी का मामला गरमाता दिख रहा है। 'दैनिक भास्‍कर' और सहयोगी प्रकाशन ‘डीएनए’ में इससे जुड़ी खबर प्रकाशित होने के बाद रक्षा राज्‍य मंत्री पल्‍लम राजू ने बुधवार को सफाई दी। पत्रकारों से बातचीत में राजू ने कहा, ‘आर्मी चीफ की चिट्ठी को सरकार गंभीरता से ले रही है।’ रक्षा राज्‍यमंत्री ने सेना की तैयारियों में कमी की बात भी कबूल की।  

यह खबर लिखने वाले पत्रकार सैकत दत्‍ता ने कहा है कि जनरल सिंह ने यह चिट्ठी 12 मार्च को पीएम को लिखी थी लेकिन अभी तक इसका जवाब नहीं मिला है।  

पूर्व सेनाध्‍यक्ष जनरल शंकर रॉय चौधरी ने भी जनरल वीके सिंह का समर्थन किया है। उन्‍होंने कहा कि जनरल सिंह ने जो बातें चिट्ठी में कही हैं वो सौ नहीं हजार फीसदी सच हैं। उन्‍हें भी अपने कार्यकाल के दौरान ऐसी दिक्‍कतों का सामना करना पड़ा था। जनरल चौधरी ने यह भी कहा कि सेना की दिक्‍कतों के बारे में मिलिट्री ऑफ डिफेंस को कई वर्षों से जानकारी है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें