शनिवार, 31 मार्च 2012

टैट्रा ट्रकों की खरीद में गड़बड़ी ,रक्षा मंत्री एके एंटनी इस्‍तीफा दे...




'एंटनी जवाब दें, नहीं तो इस्‍तीफा दे'

Date: 3/30/2012
रक्षा सौदों में गड़बड़ी की शिकायतों के बारे में एक के बाद एक खुलासे से सरकार की मुश्किलें बढ़ती दिख रही हैं। एंटनी को रक्षा सौदों में गड़बड़ी के बारे में पहले से जानकारी होने की बात के जरिये सामने आने के बाद बीजेपी ने भी सरकार पर हमला बोल दिया है।
बीजेपी के प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, 'मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक 2009 में ही एंटनी को टैट्रा घोटाले की जानकारी मिली थी। यदि अब भी एंटनी के पास कोई जवाब नहीं है तो उन्‍हें इस्‍तीफा दे देना चाहिए। वहीं, बीजेपी प्रवक्‍ता मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने कहा, सरकार इस मुद्दे पर लीपापोती करने में जुटी है।
एक के बाद एक सफाई देने की कोशिश में मसले को उलझा रही है।' चिट्ठी लीक पर मचे बवाल के बाद आर्मी चीफ जनरल वी के सिंह आज पहली बार मीडिया के सामने आए। लेकिन उन्‍होंने इस विवाद पर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया। चिट्ठी  लीक मामले की जांच आईबी कर रही है।
वीके सिंह ने डिफेंस एक्‍सपो में कहा कि सेना चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार है। जनरल ने कहा, ‘सेना के लिए 70 फीसदी उपकरणों का विदेशों से आयात गंभीर मामला है। सैन्‍य साजो सामान के लिए विदेशी कंपनियों पर हमारी निर्भरता कम होनी चाहिए। ’जब जनरल एक्‍सपो से निकलने लगे तो पत्रकारों ने उनसे सवाल पूछे।
इस पर उन्‍होंने बस इतना ही कहा, 'मुझे जो कहना था वो कह दिया है, अब इस मसले पर बोलने के लिए कुछ नया नहीं है।' वहीं दूसरी ओर, रक्षा राज्‍य मंत्री पल्‍लम राजू के आज जनरल के साथ मंच पर सामने नहीं आने से भी सवाल खड़े होने लगे हैं।
अहम सवाल है कि क्‍या सरकार ने जनरल से दूरी बनानी शुरू कर दी है। क्‍योंकि आज डिफेंस एक्‍सपो में जनरल के साथ राजू को भी आना था लेकिन आखिरी वक्‍त में मेहमानों की सूची से रक्षा राज्‍य मंत्री का नाम हटा दिया गया।
-------------

*** खरीद में गड़बड़ी की जानकारी,सोनिया - सिंह को थी........

नई दिल्ली। टैट्रा ट्रकों की खरीद में गड़बड़ी की जानकारी संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी, प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल और रक्षा मंत्री एके एंटनी को भी थी। सरकार में शामिल मंत्रियों द्वारा कई बार शिकायत दर्ज कराने के बावजूद एंटनी ने इस पर ध्यान नहीं दिया। यह खुलासा एक अंग्रेजी समाचार पत्र में प्रकाशित रिपोर्ट में किया गया है। इस बीच, सीबीआई ने मामला दर्ज कर वेक्ट्रा समूह के मालिक और टैट्रा ट्रक्स के बहुलांश हिस्सेदार रवि ऋषि को पूछताछ के लिए बुलाया है।रिपोर्ट के अनुसार कर्नाटक के वरिष्ठ नेता डॉ. डी हनुमनथप्पा ने 26 अगस्त 2009 में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र भेजा था। पत्र में उन्होंने आरोप लगाया था कि 6000 करोड़ रुपये का टैट्रा ट्रकों का ठेका सीधे उ***ा निर्माण करने वाली कंपनी को न देते हुए उ***े ब्रिटिश एजेंट को दिया गया। बीईएमएल के सीएमडी वीआर*** नटराजन द्वारा दिया गया यह ठेका रक्षा खरीद से जुड़े दिशा-निर्देशों का सीधा-सीधा उल्लंघन है। पत्र मिलने के बाद सोनिया गांधी की तरफ से स्वास्थ्य मंत्री गुलाम नबी आजाद द्वारा एक पत्र रक्षा मंत्रालय को भेजा गया था। जि***े जवाब में 22 अक्टूबर को रक्षा मंत्रालय ने कहा था इस पर जांच चल रही है और रिपोर्ट आने में समय लग ***ता है। सोनिया की तरफ से सांसद को कार्रवाई का भरोसा भी दिलाया गया।इस मामले में सांसद से 2 सितंबर को शिकायत मिलने के बाद तत्कालीन कानून मंत्री वीरप्पा मोइली ने जवाब में संबंधित मंत्रालय के सामने मुद्दा उठाने की बात कही थी। सांसद ने बाद में 16 अक्टूबर को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल को भी इस घोटाले की जानकारी दी।हनुमनथप्पा की प्रतिक्रिया-मैं सोनिया व एंटनी से व्यक्तिगत तौर पर मिला था.. मैंने घोटाले के संबंध में कई पत्र लिखे। लेकिन इन नेताओं ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें