पोस्ट

सितंबर 26, 2012 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

संप्रग सरकार डूबता जहाज : नितिन गडकरी

चित्र
  सरकार डूबता जहाज, चुनाव कभी भी: गडकरी Wed, 26 Sep 2012 http://www.jagran.com/news नई दिल्ली। सूरजकुंड में आज से शुरू हुई भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी ने संप्रग सरकार को घोटालों की सरकार करार दिया है। उन्होंने सरकार को डूबता हुआ जहाज करार देते हुए अपने कार्यकताओं से कहा है कि चुनाव कभी भी हो सकते हैं और वे तैयार रहें। भाजपा ने एक बार फिर यूपीए सरकार की आलोचना करते हुए उसे आजाद भारत की सबसे भ्रष्ट सरकार करार दिया है। पार्टी प्रवक्ता रविशकर प्रसाद ने कहा कि काग्रेस सरकार अपने कमियों से गिर रही है और भाजपा का काम उसे बचाना नहीं है। सहयोगी दल सरकार से अलग हो रहे हैं तो इसमें भाजपा कुछ नहीं कर सकती है। साथ ही सरकार काले धन पर भी गंभीर नहीं है। ये सारी बातें नितिन गडकरी ने पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में कही, जिसे रविशकर प्रसाद पत्रकारों को बता रहे थे। सूरजकुंड में सरकार पर राजनीतिक वार करते हुए टूजी, कोलगेट समेत भ्रष्टाचार के तमाम मुद्दों को राजनीतिक प्रस्तावों में शामिल किया गया है। कार्यकारिणी में नितिन गडकरी को भाजपा

समुद्र के भी निंगल गये भ्रष्टाचारी : 63 ब्लाकों में से 28 ब्लाक प्रवर्तन निदेशालय के एक पूर्व अधिकारी के परिवार से जुड़ी चार कंपनियों को आवंटित

चित्र
  समुद्र के भी निंगल गये भ्रष्टाचारी ई डी के पूर्व अधिकारी अशोक अग्रवाल  http://www.jagran.com/news/national-cbi-begins-probe-in-offshore-mining-licences-scam-9694831.html धरती-आकाश के बाद समुद्र में भी घोटाला 25 Sep 2012   नई दिल्ली [जागरण ब्यूरो]। आकाश (2जी स्पेक्ट्रम) और धरती (कोयला ब्लाक) के बाद अब समुद्र भी घोटाले से अछूते नहीं रहे। बंगाल की खाड़ी और अरब सागर में खनिज संपदा की खोज के लिए ब्लाकों में आवंटन में घोटाले की सीबीआइ ने जांच शुरू कर दी है। समुद्र में खनिज की खोज के लिए कुल 63 ब्लाकों में से 28 ब्लाक प्रवर्तन निदेशालय के एक पूर्व अधिकारी के परिवार से जुड़ी चार कंपनियों को आवंटित किए जाने का आरोप है। सीबीआइ सूत्रों के अनुसार प्रारंभिक जांच के केस में नागपुर स्थित केंद्रीय खनन ब्यूरो और केंद्रीय खान मंत्रालय के अज्ञात अधिकारियों के साथ-साथ चारों निजी कंपनियों और उनके निदेशकों को भी आरोपी बनाया गया है। जिन चार कंपनियों को लगभग आधे खनिज ब्लाक आवंटित किए गए हैं, वे ईडी के पूर्व अधिकारी अशोक अग्रवाल के परिवार से संबंधित हैं। बताया जाता है कि अशोक अग्रवाल ईडी के पहले खान मंत्

कांग्रेस के सहयोगी दल का कारनामा : 16 हजार करोड़ के ग्रेनाइट घोटाले में नहीं मिली केद्रीय मंत्री के बेट को अग्रिम जमानत

चित्र
 कांग्रेस के सहयोगी दल का कारनामा  16 हजार करोड़ के ग्रेनाइट घोटाले में नहीं मिली केद्रीय मंत्री के बेट को अग्रिम जमानत Agency | Sep 25, 2012, मद्रास हाईकोर्ट ने केंद्रीय मंत्री एमके अलगिरी के बेटे दुरई दयानिधी का अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दिया है। दयानिधी पर अवैध ग्रेनाइट उत्खनन का मामला चल रहा है। दयानिधी समेत 9 लोगों पर बिना अनुमति के ग्रेनाइट का उत्खनन का मामला है। मदुरई बेंच के जस्टिस मथीवानन ने दयानिधी के व्यापारिक पार्टनर एस. नागराजन की भी अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी है। इस मामले में गिरफ्तार खनन विभाग के डिप्टी डाइरेक्टर शनमुगवल की जमानत याचिका भी रिजेक्ट कर दिया है। मदुरई के पूर्व कलेक्टर ने ग्रेनाइट के अवैध उत्खनन में करीब 16 हजार करोड़ के नुकसान का आंकलन किया था। ============== ग्रेनाइट घोटाला: अलागिरी के बेटे को जमानत नहीं   http://zeenews.india.com/hindi/news Tuesday, September 25, 2012, मदुरै : करोड़ों रुपये के ग्रेनाइट की अवैध खुदाई के मामले में मद्रास उच्च न्यायालय ने मंगलवार को केंद्रीय मंत्री एमके अलागिरी के पुत्र दुरई दयानिधि के अग्रिम जमानत का अनुर