पोस्ट

नवंबर 26, 2012 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

बालों का झड़ना बन्द : देशी चिकित्सा

बालों का बढ़ना देशी  चिकित्सा : 1. अमरबेल : 250 ग्राम अमरबेल को लगभग 3 लीटर पानी में उबालें। जब पानी आधा रह जाये तो इसे उतार लें। सुबह इससे बालों को धोयें। इससे बाल लंबे होते हैं। 2. त्रिफला : त्रिफला के 2 से 6 ग्राम चूर्ण में लगभग 1 ग्राम का चौथा भाग लौह भस्म मिलाकर सुबह-शाम सेवन करने से बालों का झड़ना बन्द हो जाता है। 3. कलौंजी : 50 ग्राम कलौंजी 1 लीटर पानी में उबाल लें। इस उबले हुए पानी से बालों को धोएं। इससे बाल 1 महीने में ही काफी लंबे हो जाते हैं। 4. नीम : नीम और बेर के पत्त ों को पानी के साथ पीसकर सिर पर लगा लें और इसके 2-3 घण्टों के बाद बालों को धो डालें। इससे बालों का झड़ना कम हो जाता है और बाल लंबे भी होते हैं। 5. लहसुन : लहसुन का रस निकालकर सिर में लगाने से बाल उग आते हैं। 6. सीताफल : सीताफल के बीज और बेर के बीज के पत्ते बराबर मात्रा में लेकर पीसकर बालों की जड़ों में लगाएं। ऐसा करने से बाल लंबे हो जाते हैं। 7. आम : 10 ग्राम आम की गिरी को आंवले के रस में पीसकर बालों में लगाना चाहिए। इससे बाल लंबे और घुंघराले हो जाते हैं। 8. शिकाकाई : शिकाकाई और सूखे आंवले को 25-25 ग्राम ल

कोटा,राजस्थान Kota,Rajasthan

चित्र
                                                            कोटा जग मंदिर (छत्र बिलास तालाब )                                                           कोटा सर्किट हॉउस  कोटा,राजस्थान भारत डिस्कवरी प्रस्तुति कोटा, जिसे पहले 'कोटाह' नाम से जाना जाता था, राजस्थान की राजधानी जयपुर से लगभग 246 किमी. दक्षिण में स्थित है। कोटा की पहचान चम्बल नदी से भी है। इस नदी पर कोटा में 'कोटा डैम' के नाम से एक बाँध का निर्माण भी हुआ है, जिससे बिजली के उत्पादन में मदद मिल सके। व्यापारिक केंद्र:- कोटा एक प्रमुख व्यापारिक केन्द्र है। साथ ही यह एक औद्योगिक नगरी भी है, यहाँ पर कॉटन टेक्सटाइल, केमिकल पावर प्लांट्स आदि कई उद्योग-धन्धे उपलब्ध है, जैसे - डी.सी.एम., सैमटेल, बिड़ला सीमेन्ट, श्रीराम फ़र्टिलाइजर आदि। इसे राजस्थान का 'पावर हाउस' भी कहा जाता है। यह शहर कोटा साड़ी के लिए विशेष रूप से प्रसिद्ध है। म्यूज़ियम, मन्दिर और पिकनिक स्पॉट से भरे इस शहर में अब मॉल भी खुल चुके हैं। गुमानपुरा और कोटरी रोड यहाँ के दो प्रमुख बाज़ार हैं। वर्तमान में यह एक शैक्षणिक नगरी के रूप

सैमटेल ग्लास लिमिटेड बंद (कलर पिक्चर ट्यूब्स) कोटा, राजस्थान

चित्र
Published on 27 Nov-2012 कब क्या हुआ परेशानी: श्रमिकों ने फर्नेश से छेड़छाड़ की शिकायत बोरखेड़ा पुलिस-प्रशासन से की, श्रमिकों का आंदोलन जारी * 6 नवंबर से ग्लास फैक्ट्री में उत्पादन बंद * 7 नवंबर को गैस की सप्लाई बंद होने के साथ ही कलर में उत्पाद ठप * 8 नवंबर को फैक्ट्री की बिजली कटी, फैक्ट्री अंधेरे में डूबी * 17 नवंबर की रात प्रोप्रिन गैस समाप्त होने से फर्नेश में लगे बर्नर बंद * 20 नवंबर को डीजल खत्म होने से जनरेटर बंद :- पीएफ कटा पर जमा नहीं श्रमिकों का कहना है कि प्रबंधन ने उनका पीएफ काटा, लेकिन भविष्य निधि कार्यालय में जमा नहीं कराया। इसके लिए वे लगातार पीएफ कमिश्नर से संपर्क कर रहे हैं। :- आज मशाल जुलूस सेमटेल ग्लास एवं कलर के श्रमिकों को मंगलवार शाम को 6.00 बजे सेमटेल बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक क्रांति तिवारी के नेतृत्व में कोटड़ी चौराहे से लेकर एरोड्रम सर्किल, घोड़े वाला बाबा चौराहा होते हुए पुलिस कंट्रोल रूम तक मशाल जुलूस निकाला जाएगा। ========= सेमटेल फैक्ट्री में असामाजिक तत्वों की घुसपैठ भास्कर न्यूज , कोटा सेमटेल फैक्ट्री में अंधेरे का फायदा उठाने के