पोस्ट

अगस्त 10, 2010 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

" राजा डरता हिन्दुस्तानी , सारा खेल पाकिस्तानी "

चित्र
" राजा डरता हिन्दुस्तानी , सारा खेल पाकिस्तानी " " जलता सारा कश्मीर है, मनमोहन पीता खीर है" " प्रज्ञा अन्दर बंद  है , गिलानी बाहर दबंग हैं " - अरविन्द सीसोदिया   भारत में लोकतन्त्र, न्याय और समता  कि फजीहत देखो, बिना किसी सबूत के हिन्दू साध्वी प्रज्ञा तो वर्षों से अन्दर बंद  है , हजारों सबूत के बाद भी कश्मीरी अलगाववादी आजाद हैं. वे भारत के स्वतंत्रता दिवस को काला दिवस घोषित करने का दुस्साहस करते हैं , पाकिस्तान से एकता की बात करते हैं .  वे सब तो जेल के योग्य नहीं हैं , जो हिंदुस्तान को हिंदुस्तान कहती है , वह जेल में है.  कांग्रेस कि यह हिन्दू और मुस्लमान के आधार पर अलग अलग नीति , अधर्म और अन्याय है . अभी सत्ता मद में आप कुछ भी करलो इतिहास तुम्हे कभी ना तो माफ़ करेगा और ना ही भारत का हित चिन्तक  बताएगा .        हुर्रियत नेता अली शाह गिलानी ने कश्मीरियों से अपील की है कि वे , पाकिस्तानी स्वतंत्रता दिवस (14 अगस्त) को 'एकता दिवस' और भारत के स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) को 'काला दिवस' के रूप में मनाएं। यह अब  तो खुले में स्पष्ट कर रहा ह