पोस्ट

जून 17, 2014 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

किसके पंजे में पाकिस्तान - पाञ्चजन्य

इमेज
आवरण कथा -  किसके पंजे में पाकिस्तान तारीख: 14 Jun 2014   - प्रशान्त वाजपेयी -    9 जून को कराची स्थित पाकिस्तान के सबसे बड़े, जिन्ना अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) ने रात एक बजे भीषण आतंकी हमला किया। आग की लपटें बुझने से पहले ही टीटीपी ने 10 जून को पास की एक सैनिक छावनी पर बड़ा आत्मघाती हमला किया। हमले की जिम्मेदारी लेते हुए टीटीपी ने इसे अपने नेता की मृत्यु का बदला बताया। तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के पीछे कौन है? यदि कहा जाए आई.एस.आई.और पाक फौज? तो शायद आपको झटका लगेगा,परन्तु सच यही है। पाकिस्तान में आतंकी संगठनों की दो धाराएं चलती हैं। एक अफगान केंद्रित- जिसमें टीटीपी, मुल्ला उमर की क्वेट शूरा ऑफ तालिबान, हक्कानी नेटवर्क, गुलबुद्दीन हिकमतयार का हिज्ब-ए-इस्लामी,अलकायदा अफगानिस्तान वगैरह हैं। दूसरी धारा भारत केंद्रित है। इसमें लश्करे तैयवा,जमात-उद-दावा, जैश-ए-मुहम्मद, हरकत-उल-मुजाहिद्दीन जैसी जिहादी तंजीमें हैं। फिर शियाओं-अहमदियों की हत्या करने वाले सिपह-ए-सहाबा उर्फ लश्कर-ए-झांगवी जैसे सुन्नी आतंकी संगठन हैं। इनके अपन