पोस्ट

फ़रवरी 22, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

संघ वटवृक्ष के बीज – परम पूज्य आद्य सरसंघचालक डॉक्टर हेडगेवार जी

इमेज
मंगलवार, 17 फ़रवरी 2015 संघ वटवृक्ष के बीज – परम पूज्य आद्य सरसंघचालक डॉक्टर हेडगेवार जी (डॉक्टर  हेडगेवार की 125वीं जयन्ती) - डॉ. मनमोहन वैद्य (अ.भा.प्रचार  प्रमुख) लिंक  http://hi.tuffer.org/2015/02/life-tree-of-rss-dr-hedgevar.html राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का नाम आज सर्वत्र चर्चा में है. संघ कार्य का बढ़ता व्याप देख कर संघ विचार के विरोधक चिंतित होकर संघ का नाम बार-बार उछाल रहे हैं. अपनी सारी शक्ति और युक्ति लगाकर संघ विचार का विरोध करने के बावजूद यह राष्ट्रीय शक्ति क्षीण होने के बजाय बढ़ रही है, यह उनकी चिंता और उद्वेग का कारण है. दूसरी ओर राष्ट्रहित में सोचने वाली सज्जन शक्ति संघ का बढ़ता प्रभाव एवं व्याप देख कर भारत के भविष्य के बारे में अधिक आश्वस्त होकर संघ के साथ या उसके सहयोग से किसी ना किसी सामाजिक कार्य में सक्रिय होने के लिए उत्सुक हैं, यह देखने में आ रहा है. संघ की वेबसाइट पर ही संघ से जुड़ने की उत्सुकता जताने वाले युवकों की संख्या 2012 में प्रतिमास 1000 थी. यही संख्या प्रतिमास 2013 में 2500 और 2014 में 9000 थी. इस से ही संघ के बढ़ते समर्थन का अंदाज लगाया जा सकता है.