पोस्ट

जुलाई 21, 2013 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

The BJP future of this country - Narayana Murthy

चित्र
http://www.comboupdates.com BJP or Congress, who is secular,  Narayana Murthy says neither, I ask what is Secularism - Vijay Prabhu Infosys founder N.R. Narayana Murthy says that neither the Congress or the BJP is truly secular.  Everybody has his own opinion about secularism.  My question to Mr.Murthy et al, what is secularism.  Secularism is a very shallow word in Indian context.  The dictionary says secularism means a Philosophy or a doctrine that rejects religion and the attitude that religion should have no place in civil affairs.  But Mr.Murthy should leave apart the political parties, the religion is deep rooted in our day to day affairs right from our homes to our offices  Every year, every government and most private offices host a Pooja if it majority hindu and a Urs if it is majority muslim office.  Taking the religion out of an Indian will mean taking the soul out of him.  We are not so developed as the United States that we can proudly say that the religion

हिंदुओं की बात सांप्रदायिक तो मुसलमानों की बात धर्मनिरपेक्ष कैसे? -नारायण मूर्ति

चित्र
साम्प्रदायिकता या सेकुलरिज्म की आड़ में सिर्फ हिन्दुओ और हिंदूवादीयो को ही क्यों निशाना बनाया जाता - इंफोसिस के चेयरमैन नारायण मूर्ति गर्व है इंफोसिस के पूर्व चेयरमैन नारायण मूर्ति पर.....जिन्होंने तथाकथित सेकुलरों को करारा जबाब दिया ...उन्होंने कहा की यदि बीजेपी हिन्दुओ के हित की बात करने से साम्प्रदायिक हो जाती है तो फिर मुसलमानों के हित की बात करने वाली कांग्रेस या दूसरी पार्टियां धर्मनिरपेक्ष कैसे हुई ? उन्होंने मीडिया को भी लताड़ा और कहा की भारत की मीडिया नरेंद्र मोदी के खिलाफ किसी साजिश के तहत अभियान चलती है .. क्या भारत में २००२ में पहले और २००२ के बाद दंगे नही भडके ? फिर मीडिया फिर २००२ को ही बार - बार क्यों उछालती रहती है ? उन्होंने कहा की आसाम दंगो पर कांग्रेस ने अपने मुख्यमंत्री के खिलाफ क्या करवाई की ? कुछ नही ..फिर क्या आसाम के मुख्यमंत्री ने माफी मांगी ? क्या आसाम के मुख्यमंत्री ने दंगो की जिम्मेदारी ली ? नही ंतो फिर वही कांग्रेस और वही मीडिया नरेंद्र मोदी को गुजरात दंगो के लिए जिम्मेदार क्यों ठहरती है ? और उनसे बार - बार माफी की मांग क्यों की जाती है ? ----------