शुक्रवार, 18 नवंबर 2016

मोदी की नोटबंदी के 15 फायदे



नोटबंदी के 15 फायदे, 
जो मीडिया चैनल आप को कभी नहीं बतायेगी 
इन तथ्यों को जानकर आपकी आँखे खुल जायेंगी!

November 18, 2016

http://www.newstrend.news
नोटबंदी से देश के ज्यादातर लोगों को दिक्कतें हो रही हैं, लेकिन सभी लोग प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के इस फैसले के समर्थन में हैं। देश की जनता जानती है कि इस फैसले से देश का ही फायदा होने वाला है। हाँ ये अलग बात है कि कुछ फायदे लोगों को बाद में दिखाई देंगे। हालांकि देश के कुछ भ्रष्ट नेता और चैनल वाले इस फैसले पर आपत्ति जाता रहे हैं। उनका मानना है कि यह फैसला देशहित में नहीं है। अगर आपको भी ऐसा लगता है तो आप गलत हैं, क्योंकि आपसे सच्चाई छुपाई जा रही है। अगर आप भी पूरी सच्चाई जान लेंगे तो आपका यह भ्रम दूर हो जायेगा कि इस योजना से देश को नुकसान होने वाला है।

यह सच्चाई आपको कोई मीडिया चैनल नहीं बताएगा। पहले ही कहा जा चुका है कि इस विमुद्रीकरण का फायदा आम जनता को अभी नहीं देखने को मिल रहा है। लेकिन यह देश के लम्बे समय के आर्थिक विकास के लिए बहुत ही अच्छा है। इससे आने वाले समय में देश में सुख और समृद्धि ही आएगी। आइये हम आपको 15 ऐसे तथ्यों से रूबरू करवाते हैं जिसे जानने के बाद आप समझ जायेंगे कि इससे देश को फायदा हो रहा है।

15 तथ्य जो आपकी आँखें खोल देंगे :-
1- जाली नोटों का चलन, इस कदम से 100% ख़त्म हो जायेगा। इससे देश की अर्थव्यवस्था में सुधार आएगा और देश की अर्थव्यवस्था और मजबूत होगी। इसका असर कुछ हद तक दिखना शुरू भी हो गया है, लेकिन मीडिया और भ्रष्ट नेता इस बात को नहीं समझ रहे हैं। ऐसा लगता है जैसे उन्हें किसी बाहरी ताकत ने घेर रखा है।

2- पैसे की वजह से जो अशांति फैलती थी, वह रुक गयी है। इससे पहले कितनी आतंकी घटनाएँ सुनने को मिलती थी, अब सभी बंद हो गयी हैं। देश के आतंकी, नक्सली और जिहादी ठंढे पड़ चुके हैं।

3- हवाला के जरिये जो पैसा नक्सालियों, आतंकियों और जिहादियों तक पहुँचता था, उसपर लगाम लग गयी है। सूत्रों से मिली खबर के अनुसार उनको पैसा मिलना बंद हो गया है। जैसा कि हम सभी जानते हैं, इस घोषणा के बाद कश्मीर में शांति का माहौल बरक़रार है। अगर एक बार पूरी तरह से आतंकियों को पैसा मिलना बंद हो जाए तो घाटी में फिर से शांति आ सकती है।

4- कश्मीर में हालात सामान्य हो रहे हैं। वहाँ पर फिर से स्कूल खुलने लगे हैं, दुकाने जो कई दिनों से बंद पड़ी थीं, अब शुरू हो चुकी हैं। लोग फिर से खुद को सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। पत्थारबाजों में भी भारी कमी आयी है।

5- बैंक ने हॉस्पिटल्स के लिए मोबाइल एटीएम शुरू किये हैं, जिससे मरीजों को पैसा निकालने के लिए कहीं और ना जाना पड़े।

6- जन- धन अकाउंट अब पैसे से भरने लगे हैं। सरकार ने यह योजना इसी लिए शुरू की थी कि, लोग बचत करना सीखें और अपने भविष्य के लिए कुछ बचत कर सकें। जब से विमुद्रीकरण हुआ है, लोग अपने अकाउंट में पैसे जमा कर रहे हैं। लोग अब बैंक जाने लगे हैं। देश में तो कई ऐसे लोग भी हैं जो, इस योजना की वजह से पहली बार बैंक जा रहे हैं। इस योजना से कम से कम वो जागरूक तो हो गए हैं।

7- लोक अदालत में एक दिन में 55 लाख पैसे सम्बन्धी विवादों का निपटारा किया गया है, जो पिछले कई सालों से अटके पड़े हुए थे।

8- स्टेट बैंक ने बताया है कि अब तक देश में 3 लाख करोड़ रूपये बैंक में जमा किये जा चुके हैं। जो एक बहुत बड़ी रकम होती है।

9- सभी बड़े उद्योगपति अपने टैक्स जमा कर रहे हैं, जो पिछले कई सालों से झूठ बोलकर कम टैक्स देते थे। अब वे लोग भी पूरा टैक्स दे रहे हैं। इससे देश का विकास ही होने वाला है।

10- सभी बड़े सुनार अब अपने द्वारा बेचे गए सोने के गहनों का रिकॉर्ड रख रहे हैं और उनकी एंट्री फॉर्म में कर रहे हैं।

11- जिन लोगों ने अपना टैक्स, बिजली बिल, फ़ोन बिल कई सालों से नहीं भरा हुआ था, अब वो भी अपना बिल जमा कर रहे हैं।

12- जितने भी तरीके के टैक्स होते हैं, उनकी चोरी पर लगाम लगी है और चोरी करने वालों के होश उड़ चुके हैं। डर की वजह से वे सभी अपने टैक्स जमा कर रहे हैं।

13- छोटे- छोटे दुकानदार भी अब डिजिटल तरीके से पैसे का लेन देन शुरू कर रहे हैं। जो लोग पहले केवल कैश लिया करते थे, अब वो भी पेटिएम और डिजिटल वैलेट का इस्तेमाल कर रहे हैं।

14- भारत के राजकोषीय घाटे में भी कमी आयी है।

15- देश के सभी बिजनेसमैन अब अपने काले धन को उजागर कर रहे हैं, और टैक्स जमा कर रहे हैं। इतना ही नहीं वह पिछले टैक्स के साथ ही साथ आगे के टैक्स भी भर रहे हैं। पिछले दिनों ऐसी कई घटनाएं देखने को मिल रही हैं, जिसमे ऐसे लोग दौड़कर आ रहे हैं और अपनी संम्पति को घोषणा कर रहे हैं और अपना टैक्स भर रहे हैं।

ये तो कुछ तत्काल उदहारण हैं, जो देखने को मिल रहे हैं। इसके अलावा इसके साथ ही देश में आने वाले दिनों में बहुत सारे बदलाव होने वाले हैं। आप भी अपनी आँखे खुली रखें और देश में फैलाई जा रही भ्रमात्मक बातों पर ध्यान ना दें।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें