पोस्ट

दिसंबर 8, 2016 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

क्रूरता है तीन तलाक : इलाहाबाद हाईकोर्ट

इमेज
मेरा बहुत स्पष्ट मत है कि किसी भी प्रकार का  तलाक  , पत्नी महिला के प्रति अन्याय , अत्याचार और घोर अपराध है , पति के पाखण्डी विश्वासघात का सबूत है !  तीन तलाक पर कोर्ट सख्त,  क्या तीन तलाक पर बदलेगी सोच! प्रकाशित Thu, दिसम्बर 08, 2016  स्रोत : CNBC-Awaaz तलाक तलाक तलाक कहकर अपनी पत्नी को छोड़ देना असंवैधानिक है। ट्रिपल तलाक पर इलाहाबाद हाई कोर्ट की इस टिप्पणी के बाद फिर से पूरे मुद्दे पर बहस छिड़ गयी है। इस वक्त सुप्रीम कोर्ट में ट्रिपल तलाक के कानूनी पहलूओं पर सुनवाई चल रही है। लेकिन इलाहाबाद हाई कोर्ट की बातों से अपनी हक की लड़ाई लड़ रही मुस्लिम महिलाओं का हौसला जरूर बढ़ा है। हाई कोर्ट ने अपनी बातों से इस मुद्दे से जुड़े सबसे बड़े सवालों को भी उठाया है। वो ये कि क्या ट्रिपल तलाक की प्रथा वाकई कुरान शरीफ में लिखी गयी है। अगर ये दुनिया के 20 इस्लामिक देशों से हट गयी है तो भारत में क्यों नहीं और खुद को मुस्लिम समाज के नुमाएंदे बताने वाले कुछ लोग अब भी क्यों महिलाओं के हक को दबाना चाहते हैं। इलाहाबाद हाई कोर्ट ने ट्रिपल तलाक को असंवैधानिक करार दिया है। कोर्ट ने कहा है

केशलेस लेन देन को बढ़ाबा देने वाली 11 घोषणाएं सरकार ने की

इमेज
वित्त मंत्री अरुण जेटली के ये 11 ऐलान आपको देंगे बड़ी राहत ! By: एबीपी न्यूज वेब डेस्क | Thursday, 8 December 2016 नई दिल्लीः आज 8 दिसंबर है और ठीक 1 महीना पहले 8 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी का ऐलान किया था. वित्त मंत्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कई बड़े फैसलों का ऐलान किया. जिससे लोगों को बड़ी राहत मिल सकती है. देश में डिजिटल खरीदारी को बढ़ावा देने के लिए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज 11 बड़े ऐलान किए हैं. ये 11 अहम फैसले तुरंत लागू होंगे और इनके लिए जरूरी विभागों को नोटिफिकेशन जल्दी जारी कर दिए जाएंगे. 1. अब पेट्रोल पंप पर डिजिटल तरीके से पेमेंट करने वालों को सरकार 0.75 फीसदी की छूट देगी. यानी जो डिजिटल मोड में पेट्रोल डीजल खरीदेगा उसे 0.75% कम दर पर ये उपलब्ध कराया जाएगा. 2. 10 हजार से ज्यादा आबादी वाली जगह पर 2 पीओएस मशीनें मुफ्त दी जाएंगी. 1 लाख गांव जिसकी जनसंख्या 10,000 तक हो उनमें प्रति गांव को सरकार के फंड में से दो पीओएस मशीन फ्री उपलब्ध करायी जाएंगी. इसके लिए 1 लाख गांव का चुना जाएगा. 3. 4 करोड़ 32 लाख किसानों के पास किसान क्रेडिट कार्ड हैं और क