पोस्ट

अगस्त 29, 2011 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

अग्निवेश एक बार फिर से पकडे गये...

चित्र
स्वामी अग्निवेश एक बार फिर से पकडे गये.......उन पर विश्वास करना ही नहीं चाहिये, ये व्यक्ति जहां भी रहा वहीं गद्दारी की है उसने......!!!! -------- अन्ना हजारे के करीबी रहे स्वामी अग्निवेश आंदोलन के दौरान दोहरी भूमिका में थे। यू ट्यूब और कई समाचार चैनलों पर रविवार को जारी वीडियो में इसका खुलासा हुआ है। वीडियो में अग्निवेश किसी कपिल नाम के व्यक्ति से मोबाइल पर बात करते हुए अन्ना को पागल हाथी कह रहे हैं। साथ ही सरकार की ओर से सख्ती दिखाने की भी मांग कर रहे हैं। इस बीच स्वामी अग्निवेश ने तमाम आरोपों से इनकार किया है। हालांकि अन्ना की मददगार किरण बेदी ने कहा कि स्वामी जी की हकीकत सामने आ गई है। अग्निवेश ने कहा कि वीडियो फुटेज को छेड़छाड़ कर तैयार किया गया है। यह उनके खिलाफ दुष्प्रचार अभियान का हिस्सा है। वे केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल से बात नहीं कर रहे थे। किरण बेदी ने आरोप लगाया कि अग्निवेश रंगे हाथों पकड़े गए हैं। यह महाराज कौन है? क्या ये कपिल सिब्बल हैं? बेदी ने आरोप लगाया कि अग्निवेश ने टीम अन्ना को तोड़ने का प्रयास किया। वे ही इसका जवाब दे सकते हैं। हमें कोई संदेह नहीं है। अग्न