पोस्ट

जनवरी 7, 2017 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

मकसद गरीबों का जीवन स्तर सुधारना : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

इमेज
बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक में बोले मोदी,  सरकार का मकसद गरीबों का जीवन स्तर सुधारना नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: Jan 7, 2017 नई दिल्ली बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि गरीबी और गरीब बीजेपी के लिए सिर्फ चुनाव जीतने का माध्यम नहीं हैं। उन्होंने कहा कि वह खुद गरीबी में जन्मे हैं और सरकार का मकसद गरीबों का जीवन स्तर सुधारना है। साथ ही मोदी ने एक बार राजनीतिक दलों की फंडिंग में पारदर्शिता लाए जाने की वकालत करते हुए कहा कि बीजेपी इसमें सकरात्मक भूमिका निभाएगी। इसके अलावा पीएम ने बीजेपी कार्यकर्ताओं से कहा कि वे आलोचनाओं से घबराने के बजाय उनका स्वागत करें। बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मोदी के संबोधन की मुख्य बातें मीडिया से साझा कीं। रविशंकर के मुताबिक अपने संबोधन में यूपी चुनाव का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे चुनाव में रिश्तेदारों को टिकट दिलाने के लिए पार्टी पर दबाव ना डालें। उन्होंने कहा, 'बीजेपी के कार्यकर्ता वे हैं जो हवा में बहत

नोटबंदी और सर्जिकल स्ट्राइक की जय-जयकार : भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी में

इमेज
अमित शाह का पाकिस्तान के खिलाफ बड़ा बयान, कहा- जरूरत पड़ी तो फिर कर सकते हैं सर्जिकल स्ट्राइक Posted on: Jan 06, 2017 भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को कहा कि पड़ोसी देश द्वारा भारत के खिलाफ छद्मयुद्ध जारी रखे जाने पर नरेंद्र मोदी सरकार पाकिस्तान के खिलाफ दोबारा 'लीक से हटकर' कार्रवाई कर सकती है. पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से पहले शाह ने यहां राष्ट्रीय पदाधिकारियों को संबोधित किया. उनके संबोधन में पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर स्थित आतंकी लांचिंग पैड पर भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक और 500 व 1000 रुपये के नोटों को बंद करने की केंद्र सरकार की पहल छाई रही. पार्टी के सूत्र की माने तो, "बैठक के दौरान शाह ने गत 29 सितंबर को आतंकवादियों के खिलाफ की गई सैन्य कार्रवाई की प्रशंसा की और कहा कि अगर पाकिस्तान भारत में आतंकवादियों को भेजने की अपनी नीति जारी रखता है तो भारत उसके खिलाफ दोबारा लीक से हटकर कार्रवाई कर सकता है." बैठक में जिन मुद्दों पर चर्चा की गई, उनमें चिटफंड घोटाले में केंद्रीय ज