पोस्ट

जनवरी 21, 2014 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

सुनंदा पुष्कर की मौत की जांच न्यायिक देखरेख में की जानी चाहिये ।

चित्र
शशी थरूर की पत्नि सुनंदा पुष्कर की संदिग्ध मौत यह तो चीख चीख कर कह रही है कि , शशी के आचरण के कारण सुनंदा की मौत हुई ! परोक्ष अपरोक्ष शशी ही जिम्मेवार हैं। यहां प्रश्न है कि क्या,  शशी अगर हिन्दू होते तो जेल में आशारामजी की तरह होते ? सुनंदा ने मरने से पहिले कई आरोप, शशी थरुर पर लगाये । क्या पुलिस को उसे हिरासत मे नही लेना चाहिये ? क्या अलग - अलग व्यक्ति के लिये कानून अलग अलग होते है । सुनंदा पुष्कर की मौत की जांच न्यायिक देखरेख में की जानी चाहिये  । ---------------------- थरूर की पत्‍नी सुनंदा की मौत दवा के ओवरडोज से हुई, एम्‍स ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट SDM को सौंपी शिवेंद्र श्रीवास्तव [Edited by: पीयूष शर्मा] | नई दिल्ली, 20 जनवरी 2014 | http://aajtak.intoday.in केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री शश‍ि थरूर की पत्‍नी सुनंदा पुष्‍कर की पोस्टमार्टम की शुरुआती रिपोर्ट सामने आ गई है. सूत्रों की मानें, तो सुनंदा की मौत दवा के ओवरडोज से हुई है. मौत की वजह तो साफ हो गई है, पर मौत की पहेली अब भी अपनी जगह कायम है. ये सवाल अभी भी अपनी जगह पर है कि सुनंदा की मौत को खुदकुशी कहेंग

अभी चुनाव हों तो : बीजेपी – 39 फीसदी वोट बिहार में

चित्र
अब इतना तय है कि भाजपा को, बिहार मिलने जा रहा है , अगले चुनाव में नितीश सरकार बहुमत खोने वाली है ! भाजपा नेताओं को पूरी ताकत से बिहार में जूट जाना चाहिए ! -------------------- सर्वेः अभी चुनाव हों तो क्या होंगे बंगाल, बिहार, ओडीशा के नतीजे आईबीएन-7 / Jan 20, 2014 http://khabar.ibnlive.in.com/news/115001/12/4?google_editors_picks=true नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में अब 100 दिन से भी कम वक्त बचा है। सियासी मोर्चे पर सेनाएं कमर कस चुकी हैं। सेनापति विरोधियों को ललकारने में जुट गए हैं, ऐसे में ये जानना दिलचस्प है कि आखिर क्या है देश का मिजाज और क्या है मतदाता की राय। देश की सियासी नब्ज टटोलने के लिए आईबीएन7 अपनी खास पेशकश ‘अगर अभी चुनाव हों तो...’ के लिए लाया है CSDS का देशव्यापी सर्वे। 5 से 15 जनवरी के बीच CSDS ने देश के 18 राज्यों में ये सर्वे किया। 1081 स्थानों पर जाकर कुल 291 सीटों पर 18591 लोगों के बीच ये सर्वे किया गया। -------------------- अगर अभी चुनाव हों तो पश्चिम बंगाल में क्या कहता है सर्वेः अगर अभी चुनाव हों तो पश्चिम बंगाल की 42 सीटों में से तृणमूल कांग्रेस के खाते