पोस्ट

अक्तूबर 11, 2013 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

दशहरा

चित्र
दशहरा मुक्त ज्ञानकोष विकिपीडिया से http://hi.wikipedia.org          दशहरा (विजयदशमी या आयुध-पूजा) हिन्दुओं का एक प्रमुख त्योहार है। अश्विन (क्वार) मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को इसका आयोजन होता है। भगवान राम ने इसी दिन रावण का वध किया था। इसे असत्य पर सत्य की विजय के रूप में मनाया जाता है। इसीलिये इस दशमी को विजयादशमी के नाम से जाना जाता है।            दशहरा वर्ष की तीन अत्यन्त शुभ तिथियों में से एक है, अन्य दो हैं चैत्र शुक्ल की एवं कार्तिक शुक्ल की प्रतिपदा। इसी दिन लोग नया कार्य प्रारम्भ करते हैं, शस्त्र-पूजा की जाती है। प्राचीन काल में राजा लोग इस दिन विजय की प्रार्थना कर रण-यात्रा के लिए प्रस्थान करते थे। इस दिन जगह-जगह मेले लगते हैं। रामलीला का आयोजन होता है। रावण का विशाल पुतला बनाकर उसे जलाया जाता है। दशहरा अथवा विजयदशमी भगवान राम की विजय के रूप में मनाया जाए अथवा दुर्गा पूजा के रूप में, दोनों ही रूपों में यह शक्ति-पूजा का पर्व है, शस्त्र पूजन की तिथि है। हर्ष और उल्लास तथा विजय का पर्व है। भारतीय संस्कृति वीरता की पूजक है, शौर्य की उपासक है। व्यक्ति और समाज के रक्त में

Human Rights Violations : UP top's

चित्र
NHRC celebrates its 21st Foundation Day New Delhi, October 11th, 2013 http://nhrc.nic.in/dispArchive.asp?fno=12987 The National Human Rights Commission, NHRC is celebrating its 21st Foundation Day on the 12th October, 2013. It was on this day in 1993, the NHRC was set up under the Protection of Human Rights Act passed by Parliament. Since its inception, till 30th September, 2013, the Commission registered more than 12 lakh 84 thousand 856 cases of human rights violations either suo motu or on complaints or on intimation by the prison and police authorities. Out of this, 12 lakh 59 thousand 106 cases were disposed of. The top ten States from where the NHRC registered maximum complaints of human rights violations, till 30th September, 2013, are: Uttar Pradesh (714477), Delhi (85009), Bihar (65837), Haryana (56134), Rajasthan (43163), Maharashtra (42101), Madhya Pradesh (40515), Uttarakhand (31137), Tamil Nadu (29002) and Odisha (25201). The number of cases r

मानवता का सर्वाधिक उल्लंघन उत्तर प्रदेश में

इंसानों पर जुल्म के मामले में यूपी सबसे आगे Highest human right voilation in uttar pradesh Friday, October 11, 2013 http://www.amarujala.com     By : टीम डिजिटल  अमर उजाला, द‌िल्‍ली मानवाधिकार उल्लंघन के मामलों में उत्तर प्रदेश सबसे आगे है। 1993 में गठित हुए राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) के गठन से अब तक सर्वाधिक सात लाख से भी ज्यादा मामले यूपी से दर्ज किए गए। जबकि दिल्ली, बिहार, हरियाणा, राजस्थान और महाराष्ट्र समेत देश के अन्य राज्यों में मानवाधिकारों के उल्लंघन के मामले लाख के आंकड़े तक भी नहीं पहुंचे हैं। एनएचआरसी की ओर से 21वें स्थापना दिवस की पूर्व संध्या पर जारी किए गए शिकायतों के आंकड़ों के मुताबिक आयोग ने अब तक 12 लाख 84 हजार 856 मानवाधिकार उल्लंघन के मामलों पर संज्ञान लिया या शिकायत दर्ज कर कार्रवाई की। कुल मामलों में से अब तक आयोग की ओर से 12 लाख 59 हजार और 106 मामलों का निपटारा किया जा चुका है। राष्ट्रीय आयोग के मुताबिक इस साल के 30 सितंबर तक उत्तर प्रदेश से सर्वाधिक 7 लाख 14 हजार 477 मामले दर्ज किए गए। जबकि दिल्ली से 85,009, बिहार से 65,837, हरियाणा से 56,134, राज