शनिवार, 13 अगस्त 2011

रक्षाबंधन : रक्षा सम्बन्धी संदभों का गंभीरता से विवेचना करनीं चाहिए




रक्षाबंधन का त्यौहार मुख्यतः भाई और बहन का है .., किन्तु पौराणिक और अन्य सन्दर्भ इसे सुरक्षा के महत्व से ही जोड़ते हैं ...! बहन की रक्षा से लेकर राष्ट्र की रक्षा तक इसके महत्व को स्मरण करने वाले इस पर्व पर हमें रक्षा सम्बन्धी संदभों का गंभीरता से विवेचना करनीं चाहिए !!!

-------
गाना / Title: ये राखी बंधन है ऐसा - ye raakhii ba.ndhan hai aisaa

चित्रपट / Film: बेईमान

संगीतकार / Music Director: शंकर - जयकिशन-(Shankar-Jaikishan)

गीतकार / Lyricist: Varma Malik

गायक / Singer(s): मुकेश-(Mukesh) , लता मंगेशकर-(Lata Mangeshkar)

(ये राखी बंधन है ऐसा \-३ 
 जैसे चँदा और किरण का 
 जैसा बदरी और पवन का 
 जैसे धरती और गगन का) \-२ 
ये राखी बंधन है ऐसा \-३
 दुनिया की जितनी बहनें हैं 
उन सबकी श्रद्धा है इसमें है 
धरम करम भैया का ये 
बहना की रक्षा इसमें है 
जैसे सुभद्रा और किशन का 
जैसे बदरी और पवन का 
जैसे धरती और गगन का ये राखी बंधन ... 
 म: आज खुशी के दिन 
भाई के भर\-भर आए नैना \-२ 
 कदर बहन की उनसे पूछो 
 जिनकी नहीं है बहना 
 मोल नहीं कोई इस बंधन का 
 जैसे बदरी और पवन का
 जैसे धरती और गगन का 
 ये राखी बंधन है ऐसा \-३ ------
--------
क्षाबंधन के यादगार गीत
मेरे भैया, मेरे चंदा, मेरे अनमोल रतन

गायत्री शर्मा
हमारी भारतीय संस्कृति में त्योहारों का बहुत अधिक महत्व है। ये त्योहार ही है, जो हमारे रिश्तों के बीच प्रेम को जीवित रखते हैं। कितनी भी दूरियाँ ही क्यों न हो, हम सभी सीमाओं का लाँघकर रिश्तों में प्यार की ऊर्जा भरने के लिए त्योहारों पर अपने परिवारजनों के पास पहुँच जाते हैं। भाई-बहन के प्यार के प्रतीक के रूप में मनाया जाने वाला एक ऐसा ही त्योहार है - रक्षाबंधन। 

हमारे रिश्तों और फिल्मों का साथ बहुत गहरा है क्योंकि रूपहले पर्दे की फिल्में एक तरह से हमारी जिंदगी का आईना है। बॉलीवुड में हर रिश्ते व हर तीज-त्योहार को लेकर कई फिल्में बनाई गई। फिल्मों व उनके गीतों का हम पर इतना अधिक प्रभाव है कि कई बार हमें अपने जीवन की परिस्थितियाँ फिल्मी और कई बार फिल्मों के किस्से हकीकत नजर आते हैं। 

भाई-बहन के पवित्र रिश्ते को अलग-अलग दृष्टिकोणों से रूपांकित करती हुई कई फिल्में आईं, जिनमें से कुछ फिल्मों के डायलॉग व गीतों का हम पर इतना अधिक प्रभाव पड़ा कि हर खुशी या त्योहार के मौके पर हमें उन्हें गुनगुनाए बगैर नहीं रह सकते हैं। यदि आप भी इस राखी पर अपने प्यारे से भाई या बहन के लिए ये गीत गुनगुनाएँगे तो शायद यह उनके लिए राखी का सबसे बड़ा तोहफा होगा। तो क्यों न इन गीतों के साथ इस राखी को यादगार बनाया जाएँ। 

भाई-बहन के प्यार की मिठास का अनुभव कराने वाले कुछ फिल्मी गीत इस प्रकार है - 

बहना ने भाई की कलाई पर प्यार बाँधा है .... 
(फिल्म-रेशम की डोरी, निर्देशक-आत्माराम, गायक-लता मंगेशकर) 

रंग-बिरंगी राखी लेकर आई बहना, राखी बँधवा लो मेरे वीर रे ...
(फिल्म-अनपढ़, निर्देशक-मोहन कुमार, गायक-लता मंगेशकर) 

भैया मेरे राखी के बँधन को निभाना, भैया मेरे छोटी बहन को ना भुलाना ... 
(फिल्म-छोटी बहन, निर्देशक-एलवी प्रसाद, गायक-लता मंगेशकर) 

अबके बरस भेज भैया को बाबुल में .....
(फिल्म-बंदिनी, निर्देशक-बिमल रॉय, गायक-आशा भोंसले) 

चंदा रे मेरे भैया से कहना, बहना याद करे ... 
(फिल्म-चबंल की कसम, निर्देशक-राम माहेश्वरी, गायक-लता मंगेशकर)

मेरे भैया को संदेसा पहुँचाना चंदा तेरी जोत जले .... 
(फिल्म - दीदी, गायक-लता मंगेशकर)

मेरे भैया, मेरे चंदा, मेरे अनमोल रतन ... 
(फिल्म-काजल, गायक-आशा भौसले)

फूलों का तारों का सबका कहना है, एक हजारों में ... 
(फिल्म-हरे रामा, हरे कृष्णा, गायक-किशोर कुमार)

ये राखी बंधन है ऐसा ...
(फिल्म-बेईमान)

हम बहनों के लिए मेरे भैया आता है दिन .... 
(फिल्म-अंजाना)




सुमन कल्याणपु
 का फिल्म रेशम की डोरी के लिये गाया गीत -
बहना ने भाई की कलाई से, प्यार बाँधा है
प्यार की एक डोर से संसार बाँधा है
रेशम की डोरी से-२
रेशम की डोरी से संसार बाँधा है



----

भाई बहन या राखी पर लिखा गया आपका पसंदीदा गीत कौन सा है -
  • फूलों का तारों का सबका कहना है (33%, 9 Votes)
  • भैय्या मेरे, राखी के बंधन को निभाना (19%, 5 Votes)
  • बहना ने भाई की कलाई से, प्यार बाँधा है (11%, 3 Votes)
  • राखी धागों का त्यौहार (11%, 3 Votes)
  • मेरे भैय्या मेरे चंदा, मेरे अनमोल रतन (7%, 2 Votes)
  • चंदा रे मेरे भैय्या से कहना (7%, 2 Votes)
  • वो गीत इनमें नही (7%, 2 Votes)
  • ये राखी बंधन है ऐसा (4%, 1 Votes)
  • रंग बिरंगी राखी लेकर आयी बहना (0%, 0 Votes)
  • हम बहनों के लिये मेरे भैय्या (1%, 0 Votes)

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें